Bihar me chhatron ko milega chhatraviti

इंटर के 3.5 लाख छात्रों को दी जाएगी छात्रवृत्ति

पटना, वरीय संवाददाता। इंटर के तीन लाख 50 हजार विद्यार्थियों को नेशनल स्कीम छात्रवृत्ति मिलेगी। बिहार बोर्ड ने इंटर के तीनों संकायवार कटऑफ सूची जारी कर दी है। तीनों संकाय में जो छात्र कट ऑफ सूची में आये हैं, उन्हें छात्रवृत्ति से जोड़ा जायेगा।

बिहार बोर्ड की मानें तो सामान्य श्रेणी के विज्ञान संकाय में 375 अंक तक लाने वाले छात्र और छात्राओं को यह छात्रवृत्ति मिलेगी। वहीं कला संकाय में सामान्य श्रेणी के लिए 372 अंक निर्धारित हैं। वाणिज्य संकाय की बात करें तो सामान्य श्रेणी के छात्र के लिए 378 और छात्रा के लिए 376 अंक निर्धारित हैं।

ज्ञात हो कि शिक्षा मंत्रालय द्वारा देशभर के बोर्ड के विद्यार्थियों को सेंट्रल स्कॉलरशिप स्कीम से जोड़ा जाता है। इसके लिए राज्य और राष्ट्रीय बोर्ड ( सीबीएसई, सीआईएससीई) द्वारा रिजल्ट के आधार पर कट ऑफ जारी किया जाता है।

बोर्ड द्वारा जारी कटऑफ के अनुसार विद्यार्थी छात्रवृत्ति में शामिल होते हैं। बिहार बोर्ड इंटर का रिजल्ट चूंकि मार्च में ही जारी कर दिया गया था। ऐसे में बोर्ड ने नेशनल स्कॉलरशिप स्कीम के लिए कट ऑफ भी जारी कर दिया है । जिन छात्रों का नाम जारी किया गया है, वो अब इस छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करेंगे।

अभिभावक के नाम के साथ सूची जारी: बोर्ड ने संकायवार छात्रों के नाम, उनके रोल नंबर, अभिभावक के नाम के साथ जारी किया है। साथ में इंटर में उन्हें कितने अंक आए, इसकी भी जानकारी बोर्ड ने दी है। इससे छात्र आसानी से अपना नाम चिह्नित कर पायेंगे। बिहार बोर्ड की मानें तो 2021 में इसका फायदा द्वितीय श्रेणी में उत्तीर्ण छात्रों को भी मिला था। चूंकि इस बार 2022 में इंटर का रिजल्ट काफी बेहतर हुआ है, ऐसे में प्रथम श्रेणी प्राप्त छात्र और छात्रा ही इसमें शामिल हुए हैं। प्रथम श्रेणी में भी 72 फीसदी से अधिक अंक लाने वाले छात्र और छात्रा ही इस छात्रवृत्ति में शामिल हो पायेंगे। एक लाख से अधिक छात्र और छात्राएं : बिहार बोर्ड के एक लाख से अधिक विद्यार्थियों को इस छात्रवृति से फायदा होगा। 2021 में इस छात्रवृति से दो लाख 50 हजार छात्रों का नाम •कटऑफ में आया था। इस बार तीन लाख 50 हजार छात्रों को यह छात्रवृत्ति दी जायेगी

लिस्ट डाउनलोड करे – क्लिक करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page